Select your Language: हिन्दी
Environment

संसद का बजट सत्र आज से, राष्ट्रपति के अभिभाषण से होगी शुरुआत

संसद का बजट सत्र आज से, राष्ट्रपति के अभिभाषण से होगी शुरुआत

नई दिल्ली: संसद का बजट सत्र आज से शुरु हो रहा है. बजट सत्र साल का पहला सत्र होता है. लिहाजा पहले दिन राष्ट्रपति संसद के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करते हैं. उसी परम्परा के तहत आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के सेंट्रल हॉल में दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करेंगे.

सरकार का विजय डॉक्यूमेंट माना जाता है राष्ट्रपति का अभिभाषण

राष्ट्रपति का अभिभाषण सरकार का विजय डॉक्यूमेंट माना जाता है. इसलिए उम्मीद की जा रही है कि आज के भाषण में राष्ट्रपति ना सिर्फ इस साल के लिए मोदी सरकार का एजेंडा पेश करेंगे. बल्कि 2024 तक मोदी सरकार की भावी योजनाओं की रुपरेखा भी देश के सामने पेश करेंगे. राष्ट्रपति सुबह 10.55 बजे संसद भवन पहुंचेंगे. जहां पीएम मोदी के अलावा, लोकसभा के अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति उनकी अगुवाई करेंगे.

पेश किया जाएगा 2019-20 का आर्थिक सर्वेक्षण

राष्ट्रपति का अभिभाषण सुबह 11 बजे शुरु होना है. राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद आधे घंटे का विराम होगा जिसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही अलग-अलग चलेगी जिसमें सरकार की ओर से 2019-20 का आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया जाएगा. चूंकि देश के आर्थिकल हालात खराब है लिहाजा सर्वेक्षण में देश के अर्थव्यवस्था की तस्वीर और उसकी चुनौतियों और निदान के बारे में बताया जाएगा.

संसद का बजट सत्र आज से शुरू होकर 3 अप्रैल तक चलेगा. इस दौरान एक फरवरी को वित्त वर्ष 2020-21 का आम बजट पेश किया जायेगा. बजट सत्र का पहला चरण 31 जनवरी से 11 फरवरी तक और दूसरा चरण दो मार्च से तीन अप्रैल तक चलेगा.

1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

बजट सत्र का सबसे प्रमुख आकर्षण 1 फरवरी को पेश होने वाला आम बजट होगा. देश की बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था के मद्देनज़र इसे बेहद अहम माना जा रहा है. माना जा रहा है कि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बजट में कई कदमों का ऐलान तो होगा ही , करदाताओं को भी कुछ राहत मिल सकता है. इसके अलावा सत्र के पहले दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संयुक्त सत्र को दिए जाने वाले अभिभाषण पर भी सबकी नज़र रहेगी. अभिभाषण में राष्ट्रपति न सिर्फ अगले साल के लिए मोदी सरकार के एजेंडे को देश के सामने रखेंगे बल्कि 2024 तक का विजन भी सबके सामने रखा जाएगा. दो भागों में चलने वाले सत्र का पहला भाग 31 जनवरी से 11 फरवरी तक जबकि दूसरा भाग 2 मार्च से 3 अप्रैल तक होगा.

Related Articles

Back to top button