Select your Language: हिन्दी
Indiaराजनैतिक

उद्धव ने दी केजरीवाल को जीत की बधाई, बीजेपी पर कसा तंज – जन की बात से चलेगा देश, मन की बात से नहीं

उद्धव ने दी केजरीवाल को जीत की बधाई, बीजेपी पर कसा तंज - जन की बात से चलेगा देश, मन की बात से नहीं

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी की बंपर जीत पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बधाई दी है. उन्होंने हुए कहा, “दिल्ली की जीत पर मैं अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी का हार्दिक अभिनंदन करता हूं. दिल्ली के लोगों ने बता दिया कि देश जन की बात से चलेगा ना कि मन की बात से.” उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, “हम देश प्रेमी और हमारा विरोध करने वाले देशद्रोही ऐसा मानने वाले कुछ लोगों का भ्रम दिल्ली के मतदाताओं ने आज तोड़ दिया.” सूत्रों के मुताबिक उद्धव ठाकरे, अरविंद केजरीवाल के शपथग्रहण समारोह में भी शामिल हो सकते हैं.

उद्धव ठाकरे ने कहा, “जनता के काम के सामने तथाकथित राष्ट्रीय विचारों वाली सरकार हार गई.” उद्धव ने कहा, “केंद्र में विराजमान बड़े महारथियों ने अपनी पूरी ताकत लगाई. बड़े-बड़े नामों को चुनाव के मैदान में उतारा, अरविंद केजरीवाल की आतंकवादी से तुलना की, लोगों के विषयों को नजरअंदाज कर अंतरराष्ट्रीय विषयों को चुनावी मुद्दा बनाकर लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश की. इतना सब करने के बावजूद अरविंद केजरीवाल को वो नहीं हरा पाए. जनता ‘आप’ के साथ खड़ी रही और लोकतंत्र पर विश्वास और मज़बूत किया. दिल्ली की जनता और अरविंद केजरीवाल का मैं महाराष्ट्र और शिवसेना की तरफ से दिल से अभिनंदन करता हूं. अरविंद केजरीवाल को भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी देता हूं.”

वहीं इससे पहले भी उद्धव ठाकरे ने अरविंद केजरीवाल को अपना समर्थन दिया था. ठाकरे ने शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिए अपने इंटरव्यू में कहा था, “अरविंद केजरीवाल ने पांच साल दिल्ली में आदर्श काम किया है. जिससे दिल्ली की जनता का विकास हुआ. केंद्र सरकार को दिल्ली मॉडल पर देश को चलाना चाहिए. केंद्र सरकार को अरविंद केजरीवाल द्वारा किए गए अच्छे काम के लिए सम्मानित करना चाहिए. बजाए इसके बीजेपी नेता हिंदू-मुस्लिम की बात करके चुनाव जीतना चाहते हैं.”

इससे पहले उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा था, “नरेंद्र मोदी, अमित शाह दिल्ली चुनाव जीतने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं. 200 सांसद, बीजेपी शासित राज्य के मुख्यमंत्री चुनाव प्रचार में उतरे लेकिन केजरीवाल और मज़बूती से खड़े हो रहे हैं.”

Related Articles

Back to top button