Select your Language: हिन्दी
India

पूरी दिल्ली में लागू हुई धारा 144, सीएम केजरीवाल ने लोगों को दी कड़ी चेतावनी

पूरी दिल्ली में लागू हुई धारा 144, सीएम केजरीवाल ने लोगों को दी कड़ी चेतावनी

नई दिल्ली : देश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 471 हो गई है। इससे निपटने के लिए दिल्ली में 31 मार्च की मध्य रात्रि तक के लिए लॉकडाउन लागू है। दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में सीआरपीसी की धारा 144 लगा रखी है, जिसके तहत प्रदर्शन और सभाओं पर रोक है। धारा 144 के तहत 4 या इससे अधिक लोगों के एक साथ जमा होने पर रोक है। केजरीवाल सरकार ने लोगों से घरों में रहने और आपात स्थिति में ही बाहर निकलने की अपील की है। सोशल मीडिया के अलावा पुलिस लाउडस्पीकरों के जरिए भी लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने का अनुरोध कर रही है। दिल्ली पुलिस ने सरकार के निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करके जनता को सुरक्षित रखने के लिए कड़ी चौकसी कर रही है। सीएम केजरीवाल के मुताबिक अब तक दिल्ली में कोरोना के 30 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं, इनमें से 23 लोग विदेश से लौटे हैं और अन्य 7 इनके परिवार के सदस्य हैं।

केजरीवाल ने लोगों को दी कड़ी चेतावनी

दिल्ली में घरों में रहने के निर्देश की कई लोगों द्वारा अनदेखी किये जाने और निषेधाज्ञा के बावजूद पहले दिन अंतरराज्यीय बस टर्मिनलों और अन्य स्थानों पर भारी भीड़ होने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चेतावनी दी कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

सीएम ने दिया इटली और अमेरिका का उदाहरण

उन्होंने इटली और अमेरिका का उदाहरण भी दिया जहां शुरू में कोरोना वायरस की संख्या सैकड़ों में थी लेकिन कुछ हफ्ते के अंदर काफी तेजी से बढ़ गई। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी।

दिल्ली की सभी सीमा सील

शहर की सीमाओं पर यातायात रेंगती नजर आई। पुलिस मुस्तैदी से जांच कर रही थी और लोगों को अपने-अपने घरों को लौटने की सलाह दे रही थी। डॉक्टर, अस्पताल जा रहे मरीज, मीडिया कर्मी और जरूरी सेवाओं में शामिल लोगों को ही जाने की इजाजत दी गई। पुलिस ने माना कि शहर में आज निषेधाज्ञा के क्रियान्यवन में कमी रही और उसने सभी सीमा चौकियों को सील कर दिया। उसने कहा कि जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही कर्फ्यू पास दिया जाएगा लेकिन मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं होगी, उनके लिए पहचान पात्र ही काफी होगा।

शाहीन बाग में खत्म कराया गया प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले 101 दिन से चल रहे लगातार प्रदर्शन को खत्म कर दिया गया। राष्ट्रीय राजधानी में पूरी तरह से लॉकडाउन के बीच दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग में धरना स्थल को साफ कर दिया है। इस दौरान मौजूद महिलाओं समेत कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। पुलिस के कई बार समझाने के बावजूद प्रदर्शनकारियों का एक तबका उठने को तैयार नहीं था। पुलिस ने देर रात कार्रवाई कर प्रदर्शन खत्म करा दिया है।

Related Articles

Back to top button