Select your Language: हिन्दी
India

भारत मे एक ही दिन में सामने आए कोरोना संक्रमण के 103 केस, 499 हुई संक्रमित मरीजों की संख्या, अबतक 10 की मौत

भारत मे एक ही दिन में सामने आए कोरोना संक्रमण के 103 केस, 499 हुई संक्रमित मरीजों की संख्या, अबतक 10 की मौत

नई दिल्ली: भारत में जानलेवा कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 499 हो गई है. कल 103 मरीज सामने आए. अब तक वायरस से 10 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 89 लोग संक्रमित हैं. यहां दो लोगों की मौत हुई है. महाराष्ट्र के बाद केरल में 60 लोग संक्रमित हैं, जबकि यहां एक भी मौत नहीं हुई है. इस जानलेवा वायरस को रोकने के लिए 30 राज्य लॉकडाउन कर दिए गए हैं. पंजाब, महाराष्ट्र औऱ चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगाया गया है. दिल्ली में भी कर्फ्यू जैसी सख्ती है.

बाकी राज्यों का क्या है हाल?

कर्नाटक में 33 लोग संक्रमित है, जबकि एक की मौत हो चुकी है. उत्तर प्रदेश में 30 लोग इससे संक्रमित हैं. दिल्ली में 29 संक्रमित हैं, एक की मौत हो चुकी है. गुजरात में 29 संक्रमित और एक की मौत हुई है. हिमाचल में भी 3 संक्रमित हैं और एक की मौत हुई है. महाराष्ट्र में 89 संक्रमित और 2 की मौत हुई. पंजाब में 21 संक्रमित और एक की मौत हो चुकी है. पश्चिम बंगाल में 7 संक्रमित और एक की मौत हुई.

बता दें कि केन्द्र सरकार ने वायरस पर नियंत्रण के लिये लागू पाबंदियों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है. कोरोना वायरस से दुनियाभर में 14,500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोमवार को कर्फ्यू लागू कर दिया. ऐसा बड़ा कदम उठाने वाला देश का यह पहला राज्य है. लोग लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहे थे, इसलिए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कर्फ्यू की घोषणा की. इस दौरान जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी सेवाओं पर पाबंदी रहेगी.

लॉकडाऊन का गंभीरता से पालन नहीं कर रहे हैं कुछ लोग

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य सरकारों से यह सुनिश्चित करने के लिये कहा है कि लॉकडाउन के नियमों का सही ढंग से पालन हो रहा है क्योंकि उन्होंने ध्यान दिया है कि कुछ लोग इसका गंभीरता से पालन नहीं कर रहे हैं. दिल्ली,महाराष्ट्र, झारखंड और नगालैंड ने राज्यव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की है, जबकि बिहार, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में कई जिलों में भी ऐसी ही घोषणा की जा चुकी है. केरल, राजस्थान और उत्तराखंड सहित कई राज्य पहले ही आंशिक या पूर्ण लॉकडाउन घोषित कर चुके हैं.

लॉकडाउन का उल्लंघन किया तो होगी कार्रवाई

दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरू और चेन्नई समेत देशभर के 80 जिलों में ट्रेन और अंतर-राज्यीय बस सेवाएं 31 मार्च तक निलंबित होने से लोगों की यात्रा और आवाजाही पर पाबंदी लगी है. केंद्र ने राज्य सरकारों को लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा है. पूरे महाराष्ट्र में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है. मुंबई में बस सेवाएं बंद की गईं हैं और जिलों की सीमाएं भी सील की गईं हैं.

रेल के बाद हवाई सेवा पर भी रोक

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए घरेलू उड़ानों पर भी रोक लगा दी गई है. आज रात 12 बजे से उड़ानों पर रोक लगाई है. हालांकि, कार्गो फ्लाइट पर पाबंदी लागू नहीं होगी. एयरलाइंस को आज रात 12 बजे से पहले अपने गंतव्य पर उतरने के लिए योजना बनानी होगी. रेल सेवा पर पहले ही रोक लगाई जा चुकी है. महामारी कोरोना वायरस ने अब देश की रेल और हवाई सेवा दोनों पर ब्रेक लगा दिया है.

कोरोना वायरस के मद्देनजर आज से एम्स में ओपीडी बंद

एम्स ने आज से अगले आदेश तक विशेष सेवाओं समेत ओपीडी, सभी नये और पुराने मरीजों का रजिस्ट्रेशन बंद करने का आदेश जारी किया है. इससे पहले एम्स ने कोविड 19 महामारी पर नियंत्रण के लिये अपने संसाधनों के इस्तेमाल को लेकर 23 मार्च से मरीजों का नियमित वाकइन ओपीडी रजिस्ट्रेशन अस्थायी तौर पर निलंबित करने का फैसला लिया था. एम्स ने शुक्रवार को कहा था कि सभी गैर जरूरी सर्जरी और उपचार स्थगित करने का फैसला लिया गया है. इसमें निर्देश दिया गया था कि 21 मार्च से सिर्फ जीवनरक्षक आपात सर्जरी ही की जायेंगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अस्पतालों और चिकित्सा शिक्षा संस्थानों से उचित संख्या में वेंटिलेटर और उच्च प्रवाह वाले आक्सीजन मास्क खरीदने को कहा है. इसके साथ ही अस्पताल परिसरों में भीड़ कम से कम रखने के लिये कहा गया है.

Related Articles

Back to top button