Select your Language: हिन्दी
टेक्नोलोजी

टिकटॉक को टक्कर देने के लिए आ रहा है गूगल का ‘शॉर्ट्स’

टिकटॉक को टक्कर देने के लिए आ रहा है गूगल का 'शॉर्ट्स'

नई दिल्ली I शॉर्ट विडियो मेकिंग प्लैटफॉर्म TikTok की पॉप्युलैरिटी ने Google की चिंता को बढ़ा दिया है। यही कारण है कि गूगल अब अपने विडियो प्लैटफॉर्म यूट्यूब के एक खास वर्जन ‘Shorts’ को लॉन्च करने के बारे में सोच रहा है। गूगल की कोशिश रहेगी कि वह शॉर्ट्स के जरिए टिकटॉक यूजर्स को अपनी तरफ खींचे। शॉर्ट्स के जरिए यूजर मोबाइल ऐप के अंदर टिकटॉक की तरह ही छोटे विडियो अपलोड कर पाएंगे।

तेजी से बढ़े टिकटॉक के यूजर्स

टिकटॉक साल 2016 में चीन में लॉन्च किया गया था। वहीं, इसका ग्लोबल लॉन्च साल 2018 में हुआ। इस ऐप में यूजर 3 से 60 सेकंड के विडियो बनाते और अपलोड करते हैं। टिकटॉक के मोबाइल ऐप ने लॉन्च के साथ ही यूजर्स को अपना दिवाना बना दिया और देखते ही देखते इसके यूजर्स की संख्या करोड़ों में पहुंच गई।

टिकटॉक पर शिफ्ट हो रहे यूट्यूब के यूजर

गूगल की सबसे बड़ी टेंशन है कि उसके यूट्यूब यूजर और क्रिएटर धीरे-धीरे टिकटॉक पर शिफ्ट हो रहे हैं। हाल के दिनों में कई यूट्यूबर्स ने अपना टिकटॉक अकाउंट बनाया है और उसपर शॉर्ट विडियो अपलोड करने की शुरुआत कर दी है। गूगल अपने यूट्यूब विडियो क्रिएटर्स और ऑडिएंस को खोना नहीं चाहता और इसीलिए वह आजकल शॉर्ट्स पर काम कर रहा है।

यूट्यूब इस मामले में है टिकटॉक से आगे

टिकटॉक के मुकाबले यूट्यूब शॉर्ट्स का प्लस पॉइंट यह रहेगा कि उसके पास लाइसेंसी विडियो, ऑडियो और म्यूजिक की संख्या काफी ज्यादा है। ऐसे में क्रिएटर्स को अपने विडियो बनाने के लिए लाखों म्यूजिक का ऑप्शन मिल जाएगा।

जारी है यूजर बेस की रेस

अभी की बात करें तो दुनिया भर में टिकटॉक के ऐक्टिव यूजर्स की संख्या 500 मिलियन (50 करोड़) है। हालांकि, यह यूट्यूब के 200 करोड़ ऐक्टिव यूजर्स से काफी कम है, लेकिन जिस रफ्तार से टिकटॉक यूजर्स की संख्या बढ़ रही है उसे देखकर कहा जा सकता है कि यूजर बेस के मामले में टिकटॉक जल्द की यूट्यूब की बराबरी कर सकता है।

यूट्यूब में आया बेडटाइम रिमाइंडर फीचर

यूट्यूब जल्द ही अपने ग्लोबल यूजर्स के लिए खास बेडटाइम रिमाइंडर फीचर लाने वाला है। यह फीचर यूट्यूब के वर्जन नंबर 15.13.33 में मिलेगा। इस फीचर की खास बात है कि इसमें यूजर अपने सोने का समय सेट कर सकते हैं। इसके बाद रात में अगर आप सेट किए गए टाइम से ज्यादा देर तक विडियो देखते रह गए तो यह आपको सोने के लिए कहेगा। यूट्यूब का यह नया फीचर जनरल सेटिंग्स ऑप्शन में दिया गया है, लेकिन यह डिजिटल वेलबींग टूल का हिस्सा है।

Related Articles

Back to top button