Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

कोरोना से लड़ने के लिए केंद्र सरकार ने राज्यो के लिए जारी किया 17 हजार करोड़ का फ़ंड

कोरोना से लड़ने के लिए केंद्र सरकार ने राज्यो के लिए जारी किया 17 हजार करोड़ का फ़ंड

नई दिल्ली I कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने राज्यों को फंड जारी किया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारण ने शुक्रवार को 17,287.08 करोड़ का फंड अलग-अलग राज्यों को दिया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने फंड के जारी किए जाने के बारे में जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि आंध्र प्रदेश, असम, हिमाचल प्रदेश, केरल, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पंजाब, सिक्किम, तमिलनाडु, त्रिपुरा, उत्तराखंड और ​पश्चिम बंगाल को ग्रांट के तहत 6,195.08 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं.

इसके अलावा गृह मंत्रालय की ओर से भी राज्यों को रकम दी गई है. गृह मंत्री अमित शाह ने 11,092 करोड़ के फंड को आज मंजूरी दे दी है. इन पैसों का इस्तेमाल क्वारनटीन सेंटर और अन्य कार्यों के लिए किया जाएगा.

इन राज्यों को मिलेगा फंड

वित्त मंत्रालय की ओर से जिन राज्यों को फंड दिया गया है उनमें आंध्र प्रदेश, असम, हिमाचल प्रदेश, केरल, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पंजाब, सिक्कम, तमिलनाडु, त्रिपुरा, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल शामिल हैं.

राज्य सरकारों ने मांगे थे बकाये पैसे

कोरोना को लेकर जंग लड़ रही राज्य सरकारों ने केंद्र से अपने बकाये पैसे की मांग की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से बात किए थे. इस दौरान राज्यों ने केंद्र से मेडिकल किट, बकाये पैसे के साथ ही आर्थिक मदद की मांग की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 2500 करोड़ के मदद की मांग की. इसके साथ ही 50 हजार करोड़ के पुराने बकाये की भी मांग की गई. पश्चिम बंगाल की ही तरह पंजाब ने भी 60 हजार करोड़ के पुराने बकाये की मांग की.

पीएम मोदी ने क्या कहा था

मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम कोशिश कर रहे हैं कि राज्य सरकारों से बेहतरीन समन्वय स्थापित किया जा सके, क्योंकि कोरोना की लड़ाई हम सबको मिलकर लड़नी है. केंद्र सरकार हर कदम पर राज्य सरकार का साथ देगी. उन्होंने राज्यों के मेडिकल सुविधाओं के बारे में भी जाना. साथ ही क्वारनटीन सेंटर की हालत की विस्तृत रिपोर्ट ली.

Related Articles

Back to top button