Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

औरंगाबाद ट्रेन हादसा: प्रत्‍यक्षदर्शी ने बयां किया खौफनाक मंजर का नजारा

औरंगाबाद ट्रेन हादसा: प्रत्‍यक्षदर्शी ने बयां किया खौफनाक मंजर का नजारा

औरंगाबाद : देशभर में कोरोना संकट के बीच महाराष्‍ट्र के औरंगाबाद में हुए ट्रेन हादसे ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है, जिसमें 16 मजदूरों की कटकर मौत हो गई। देश में जिस तरह कोरोना वायरस संक्रमण और लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्‍यों के लिए पैदल ही निकल पड़े हैं, उससे इस घटना ने और भी कई चिंताओं का उजागर किया है। इस बीच दुर्घटना में बाल-बाल बचे लोगों ने अपनी व्‍यथा बताई और उस खौफनाक मंजर को याद किया, जब ट्रेन आई और पटरी पर सो रहे उनके साथियों को कुचलते हुए आगे निकल गई।

‘नींद से जगाने की कोशिश की’
मध्‍य प्रदेश से ताल्‍लुक रखने वाले ये मजदूर रेलवे ट्रैक से होते हुए अपने गृह राज्‍य के लिए निकले थे, जब कुछ देर के लिए थककर वे सो गए और इसी बीच ट्रेन ने उन्‍हें कुचल दिया। ये सभी जालना की एक स्‍टील कंपनी में काम करते थे। लॉकडाउन के कारण हर तरफ बंदी के बीच वे अपने गृह राज्‍य के लिए निकले थे। इस हादसे में बाल-बाल बचे धीरेंद्र सिंह ने उस खौफनाक मंजर को याद करते हुए बताया कि किस तरह उन्‍होंने ट्रेन को रोकने और अपने साथियों को नींद से जगाने की पूरी कोशिश की, लेकिन सब व्‍यर्थ गया।

Related Articles

Back to top button