Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

सावधान: अगले 6 घंटों में आएगा प्रचंड चक्रवाती तूफान, IMD ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। अगले 6 घंटों में और खतरनाक हो सकता है चक्रवाती तूफान अम्फान मुख्य बातेंअगले 6 घंटों में और खतरनाक रूप हो सकता है चक्रवाती तूफान ‘अम्फानओडिशा और पश्चिम बंगाल में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की टीम तैनातओडिशा तथा पश्चिम बंगाल के कई तटीय जिलों में तेज रफ्तार हवाओं के साथ हो सकती है भारी बारिश

नई दिल्ली: मौसम विभाग ने आने वाले कुछ घंटों में चक्रवाती तूफान अम्फान को लेकर चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात अम्फान अगले 6 घंटों के भीतर प्रचंड रूप में तब्दील हो सकता है। मौसम विभाग ने कहा है कि यह तूफान 20 मई की दोपहर/शाम तक पश्चिम बंगाल को पार करने हुए दीघा (पश्चिम बंगाल) और हटिया द्वीप के बीच बांग्लादेश के तटों तक पहुंच जाएगा। इसी खतरे को देखते हुए खतरे के मद्देनजर रविवार को ओडिशा और पश्चिम बंगाल में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की टीम तैनात कर दी गईं हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान का केंद्र ओडिशा के पारादीप से 980 किलोमीटर दक्षिण में, पश्चिम बंगाल के दीघा से 1,130 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में और बांग्लादेश के खेपूपारा से 1250 किलोमीटर दूर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में स्थित है।

ओडिशा में 12 जिले अलर्ट पर

ओडिशा सरकार ने 12 जिलों में अलर्ट घोषित किया है। खबरों के मुताबिक 19 मई तक इसकी रफ्तार 200 किलोमीटर प्रति घंटा की हो सकती है। इस चक्रवाती तूफान के भारतीय तट की ओर बढ़ने के चलते ओडिशा तथा पश्चिम बंगाल के कई तटीय जिलों में तेज रफ्तार हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक 18 और 19 मई को तटीय ओडिशा में कई स्थानों पर पर भारी तथा कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा होगी, जबकि 20 मई 2020 को उत्तर तटीय ओडिशा के ऊपर कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होगी।

मछुआरों को चेतावनी

मछुआरों को अगले 24 घंटों के दौरान दक्षिण बंगाल की खाड़ी, 17 से 18 मई के दौरान मध्य बंगाल की खाड़ी एवं 18 से 20 मई के दौरान उत्तरी बंगाल की खाड़ी में न जाने का सुझाव दिया गया है। इसके अतिरिक्त, मछुआरों को 18 से 20 मई के दौरान उत्तरी बंगाल की खाड़ी एवं उत्तरी ओडिशा, पश्चिम बंगाल एवं समीवर्ती बांग्ला देश के तटों पर न जाने का सुझाव दिया गया है। ओडिशा के सात जिलों में 10 टीम तैनात की गई हैं। ये जिले पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, भद्रक, बालासोर और मयूरभंज हैं

Related Articles

Back to top button