Select your Language: हिन्दी
टेक्नोलोजी

बड़ी खबर! 3 करोड़ भारतीयों की पर्सनल इन्फॉर्मेशन खतरे में, पता, ईमल, फोन नंबर हुए लीक

बड़ी खबर! 3 करोड़ भारतीयों की पर्सनल इन्फॉर्मेशन खतरे में, पता, ईमल, फोन नंबर हुए लीक

नई दिल्ली. ऑनलाइन इंटेलीजेंस कंपनी साइबल ने बताया कि साइबर अपराधियों ने 2.9 करोड़ भारतीयों के पर्सनल डेटा डार्क वेब पर डाल दिए हैं. साथ ही ये भी पता चला कि ये डेटा वहां मुफ्त में उपलब्ध कराया जा रहा है. कंपनी ने शुक्रवार को एक ब्लॉग में कहा, ‘नौकरी की तलाश कर रहे 2.91 करोड़ भारतीय लोगों की पर्सनल डिटेल मुफ्त में लीक हो गई हैं. आमतौर पर इस तरह की घटना हमारी नजरों में आती रहती है, लेकिन इसने विशेष ध्यान खींचा क्योंकि इसमें बहुत सारी निजी जानकारी भी शामिल हैं. इन डिटेल में शिक्षा, पता, ईमल, फोन, योग्यता, कार्य अनुभव आदि भी शामिल हैं.’

साइबल ने हाल ही में फेसबुक और अनएकैडमी की हैकिंग की भी जानकारी का खुलासा किया था. साइबल ने एक स्टेटमेंट में कहा है कि साइबर अपराधी इस तरह की पर्सनल डिटेल की ताक में रहते हैं ताकि उनके नाम पर वह पहचान चुराने, घोटाला करने या फिर जासूसी करने जैसे काम कर सकें

इस महीने के शुरुआत में भारत के सबसे बड़े ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म अनएकेडमी के हैक होने की खबर मिली थी. उस समय भी इसकी जानकारी US-बेस्ड सिक्योरिटी फर्म साइबल ने दी थी, जिसके मुताबिक हैकर्स ने इसके सर्वर को हैक करके 22 मिलियन (लगभग 2.2 करोड़) से ज़्यादा स्टूडेंट्स की जानकारी चुराया था. बताया गया कि इस डिटेल को डार्क वेब पर ऑनलाइन बेचा जा रहा है. इनमें विप्रो, इन्फोसिस, कॉग्निजेंट, गूगल और फेसबुक के कर्मचारियों की डिटेल भी थी.

सिक्योरिटी फर्म Cyble की रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक Unacademy के 21,909,707 डेटा लीक हुए, जिनकी कीमत 2,000 अमेरिकी डॉलर है.

रिपोर्ट के मुताबिक अनएकेडमी की वेबसाइट से जो डेटा लीक हुआ उसमें स्टूडेंट्स का यूज़रनेम, पासवर्ड, लास्ट लॉगइन डेट, ई-मेल आईडी, पूरा नाम, अकाउंट स्टेटस और अकाउंट प्रोफाइल जैसी कई ज़रूरी जानकारियां शामिल थीं. बता दें कि अनएकेडमी की मार्केट वैल्यू 500 मिलियन डॉलर (करीब 3,798 करोड़ रुपये) है.

Related Articles

Back to top button