Select your Language: हिन्दी
राजस्थान

राजस्थान संकट: गहलोत-पायलट के बीच सियासी संग्राम जारी, बागियों की याचिका पर हाइकोर्ट मे आज फिर सुनवाई

नई दिल्ली I राजस्थान में चल रहा सियासी घमासान अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है. एक तरफ अदालत में लड़ाई लड़ी जा रही है, तो अदालत के बाहर भी जुबानी जंग चल रही है. सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पूर्व डिप्टी सचिन पायलट को नाकारा, निकम्मा तक कह दिया, जवाब में सचिन पायलट ने कहा कि उनकी छवि को खराब करने की कोशिश की जा रही है. दूसरी ओर आज भी हाईकोर्ट में सुनवाई जारी रहेगी, जहां सचिन पायलट गुट ने स्पीकर के नोटिस के खिलाफ याचिका लगाई है.

हाईकोर्ट में जारी है सुनवाई

स्पीकर के द्वारा सचिन पायलट समेत 19 बागी विधायकों को नोटिस दिया गया, जिसके खिलाफ याचिका दायर की गई है. सोमवार को सचिन पायलट गुट की ओर से हरीश साल्वे की बहस पूरी हुई और फिर स्पीकर की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने अपनी बात रखी. सिंघवी ने दलील दी है कि अभी स्पीकर ने किसी विधायक को अयोग्य घोषित नहीं किया है, ऐसे में अदालत का हस्तक्षेप करना ठीक नहीं है.

अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट

कानूनी लड़ाई से इतर राजस्थान में जुबानी जंग जारी है. सोमवार को अशोक गहलोत ने कहा कि उन्हें पता था कि सचिन पायलट निकम्मा है और नाकारा है, वह बीजेपी के साथ मिलकर सरकार गिराने की साजिश रच रहे थे. राजस्थान के सीएम ने कहा कि पिछले लंबे वक्त से वो नोटिस कर रहे थे, लेकिन प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए ही सचिन पायलट को अपनी सरकार गिराने में दिलचस्पी थी.

Related Articles

Back to top button