Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

गृहमंत्री अमित शाह के कोरोना संक्रमण के बाद क्या अब पूरी कैबिनेट कराएगी कोविड-19 टेस्ट?

नई दिल्ली I भारत में कोरोना से लड़ाई के रणनीतिकार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह खुद कोरोना संक्रमित हो गए हैं. रविवार की शाम 4 बजकर 43 मिनट पर गृह मंत्री अमित शाह ने जैसे ये जानकारी दी तो हर कोई हैरत में पड़ गया.

गृहमंत्री ने ट्वीट करके कहा, ‘कोरोना के शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने टेस्ट करवाया और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मेरी तबीयत ठीक है, परंतु डॉक्टर्स की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं. मेरा अनुरोध है कि आप में से जो भी लोग बीते कुछ दिनों में मेरे संपर्क में आए हैं, कृपया खुद को आइसोलेट कर अपनी जांच करवाएं.’

कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अमित शाह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती हुए हैं. सूत्रों के मुताबिक, उनके इलाज के लिए एम्स की एक टीम भी मेदांता अस्पताल जा सकती है.

अमित शाह पिछली कैबिनेट मीटिंग में शामिल हुए थे. ये बैठक प्रधानमंत्री के आवास पर हुई थी, जहां नई शिक्षा नीति (NEP 2020) को मंजूरी दी गई थी. हालांकि, मीटिंग में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन हुआ था. मीटिंग में शामिल होने वालों को मास्क पहनना जरूरी था.

सूत्रों के मुताबिक, अमित शाह का कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग किया जाएगा, लेकिन उनके सभी कैबिनेट सहयोगी (जो बैठक में शामिल थे) कोरोना टेस्ट होगा या नहीं, ये स्पष्ट नहीं है. इधर, रविवार रात को केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने की जानकारी मिली है.

कोरोना को लेकर पीएम आवास पर कड़े प्रोटोकॉल

पिछले कुछ महीनों में प्रधानमंत्री आवास पर कोरोना को लेकर कड़े प्रोटोकॉल लागू हैं. तापमान और आरोग्य सेतु से परीक्षण के अलावा वहां की कारों से किसी को लाया या भेजा नहीं जाता. ये भी बताया जा रहा है कि अमित शाह को अयोध्या में भूमि पूजन के लिए भी न्योता दिया गया था. हालांकि, ये साफ हो चुका था कि वो उस कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे.

अमित शाह ने शनिवार को ICCR के एक वेबिनार में भी हिस्सा लिया था, जिसका आयोजन लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक की 100वीं पुण्यतिथि पर किया गया था.

Related Articles

Back to top button