Select your Language: हिन्दी
टेक्नोलोजी

अब व्हाट्सऐप लगाएगा फेक न्यूज़ पर लगाम, लॉन्च किया नया फीचर

नई दिल्ली। व्हाट्सऐप पर समय के साथ फर्जी खबरों का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। लोग इन फेक खबरों जल्दी विश्वास कर लेते हैं, ऐसे में इन्हें रोकने के लिए व्हाट्सऐप ने एक नया फीचर लॉन्च किया है। इसके जरिए मैसेज को वेब सर्च करके उसकी प्रमाणिकता का पता लगाया जा सकता है। लेकिन यह फीचर अभी चुनिंदा देशों में ही लॉन्च किया गया है। फिलहाल भारत में इसे लॉन्च नहीं किया गया है। बता दें कि पिछले कुछ महीनों से कोरोना वायरस को लेकर व्हाट्सऐप कई तरह की फर्जी खबरें फैलाई जा रही थीं। ऐसे में इस तरह की परेशानी से निपटने के लिए कंपनी की तरफ से उठाया गया ये कदम लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

इस तरह से चेक कर सकेंगे मैसेज की प्रमाणिकता

आमतौर पर व्हाट्सऐप पर फेक खबरों को फॉरवर्ड किया जाता है, ऐसे में इसे वेब सर्च के जरिए उस मैसेज के साथ दिए गए मैगनिफाइंग ग्लास आइकन पर क्लिक करें। इस पर टैप करने के बाद आपको अपने फोन के डिफॉल्ट ब्राउजर पर रिडायरेक्ट किया जाएगा। इससे मैसेज अपलोड हो जाएगा। अब वेब रिजल्ट के जरिए मैसेज की प्रमाणिकता को चेक कर सकेंगे। इसके साथ ही इसमें वे आर्टिकल भी शामिल हो सकते हैं, जो मैसेज को फर्जी साबित कर सकते हैं। इस बात की जानकारी कंपनी ने अपने ब्लॉग पोस्ट के जरिए दी है।

ब्लॉग के अनुसार मैसेज को ब्राउजर के लिए अपलोड कर सकते हैं, लेकिन व्हाट्सऐप मैसेज को नहीं देख सकेंगे। इससे यूजर की प्राइवेसी भी सेट कर सकेंगे। बता दें कि यह फीचर इटली, आयरलैंड, स्पेन, ब्रिटेन, मैक्सिको, अमेरिका और ब्राजील में लॉन्च किया गया हैं। यह फीचर व्हाट्सऐप के एंड्रायड, आईओएस और व्हाट्सऐप वेब पर लेटेस्ट वर्जन में उपलब्ध होगा।

फेक न्यूज पर रोक लगाने की कोशिश

मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर फेक न्यूज लगाम लगाने के लिए बड़ा कदम उठाया गया था। इसके जरिए एक बार में सिर्फ एक ही मैसेज को फॉरवर्ड कर सकते हैं। बता दें कि पहले व्हाट्सऐप पर 5 चैट पर मैसेज फॉरवर्ड किया जा सकता था। वहीं इस फीचर के आने से फेक खबरों को फैलने से रोक सकेंगे। कोरोना वायरस से जुड़ी फर्जी खबरों को रोक लगाने के लिए यह कदम उठाया गया है। कुछ महीने से कोविड-19 को लेकर कई ऐसी अफवाहें फैलाई गई थी, जो लोगों के लिए सही नहीं है।

Related Articles

Back to top button