Select your Language: हिन्दी
Delhi

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी हालत मे आंशिक सुधार, लेकिन अभी भी वेंटिलेटर पर

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के रेस्पीरेटरी पैरामीटर्स में हल्का सुधार आया है लेकिन अब भी वह वेंटिलेटर पर हैं. सेना के ‘रिसर्च एंड रेफरल’ अस्पताल ने यह जानकारी दी. प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को आर आर अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी ब्रेन सर्जरी की गई थी. इससे पहले कोविड संक्रमित होने की भी पुष्टि हुई थी.

हाल ही में उन्हें फेफड़ों में संक्रमण की शिकायत भी हुई है. डॉक्टरों ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं और वर्तमान में विशेषज्ञों की एक टीम उनकी देखरेख कर रही है. कुछ दिन पहले पूर्व राष्ट्रपति के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने कहा था कि उनके पिता की हालत स्थिर बनी हुई है. प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति थे.

प्रणब मुखर्जी की ब्रेन सर्जरी की गई थी

84 साल के पूर्व राष्ट्रपति को मस्तिष्क में खून का थक्का जमने के बाद एक जीवन रक्षक आपातकालीन सर्जरी की गई थी. इसके बाद उनका स्वास्थ्य खराब हो गया. उनका कोविड-19 परीक्षण भी पॉजिटिव आया था. 10 अगस्त को मुखर्जी ने ट्वीट किया था, “एक अलग प्रोसीजर के लिए अस्पताल आया हूं और मेरा कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव निकला है. पिछले हफ्ते मेरे संपर्क में आए लोगों से मैं अनुरोध करता हूं कि वे खुद को आइसोलेट करें और अपना कोविड-19 परीक्षण कराएं.”

एक्सपर्ट्स की टीम कर रही है निगरानी

दिल्ली छावनी स्थित आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि एक्सपर्ट्स की एक टीम पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखे हुए है. प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य को लेकर अस्पताल की तरफ से रोजाना हेल्थ बुलेटिन जारी कर जानकारी दी जा रही है. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना वायरस से भी संक्रमित हैं.

Related Articles

Back to top button