India

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह का यूपी सरकार पर गंभीर आरोप-‘चेतन चौहान की मौत लापरवाही से हुई, दर्ज कराऊंगा एफआईआर’

लखनऊ : आम आदमी पार्टी के नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। सिंह ने कहा कि मंत्री चेतन चौहान की मौत मामले में वह प्राथमिकी दर्ज कराएंगे। अपने एक ट्वीट में राज्यसभा सांसद ने कहा, ‘बेहद दुःख की बात है कि योगी जी ने कल उत्तर प्रदेश की जनता को ‘नमूना’ कहा और जनता का अपमान किया। योगी जी को जनता से माफी मांगनी चाहिए। आज पूरे उत्तर प्रदेश में करोना का कहर है। पीजीआई में सरकार के मंत्री स्व.चेतन चौहान की लापरवाहीपूर्ण हत्या हुई है इस मामले में एफआईआर करूंगा।’

कोरोना से संक्रमित हुए थे चौहान

बता दें कि मंत्री चौहान (73) कोविड-19 से संक्रमित पाए गए थे और इसके बाद उन्हें इलाज के लिए सजंय गांधी पोस्टग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआई) में भर्ती किया गया। यहां उनकी हालत में सुधार नहीं होने पर उन्हें गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल ले जाया गया लेकिन क्रिकेटर से नेता बने चौहान इस महामारी की चपेट से उबर नहीं पाए और पिछले सप्ताह उनकी मौत हो गई। चौहान को करीब 36 घंटे तक वेंटीलेटर पर रखा गया।

मंत्री की मौत पर सपा ने भी उठाए सवाल

समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता सुनील सिंह साजन ने चौहान की मौत मामले को विधानसभा में उठाया। उन्होंने आरोप लगाया कि एसजीपीजीआई में चौहान के इलाज में लापरवाही बरती गई। विधानसभा में सपा नेता का भाषण सोशल मीडिया में भी वायरल हुआ है। वहीं, साजन के बयान पर एसजीपीजीआई के निदेशक डॉक्टर आरके धीमान ने हैरानी जताई। धीमान ने कहा, ‘इलाज के दौरान चौहान से मेरी कई बार बातचीत हुई लेकिन उन्होंने इस बारे में कभी कोई बात नहीं की। उन्होंने पारिवारिक कारणों का हवाला देकर मेदांता अस्पताल जाना उचित समझा।’

यूपी सरकार पर हमलावर हैं संजय सिंह

संजय सिंह का ट्वीट ऐसे समय सामने आया जब मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने विधानसभा सत्र के दौरान उन पर तीखा हमला बोला। योगी ने कहा, ‘कुछ ‘नमूना’ यहां आए हैं और हमसे पूछ रहे हैं कि हमने राज्य के लोगों के लिए क्या किया है? वे राज्य में कोविड-19 की स्थिति पर बात करना चाहते हैं लेकिन दिल्ली की हालत के बारे में बात करने से बचना चाहते हैं।’ सीएम योगी ने आंकड़े देकर यूपी और दिल्ली के बीच कोविड-19 की स्थिति की तुलना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की मृत्युदर दिल्ली से काफी कम है।

Related Articles

Back to top button