Select your Language: हिन्दी
India

JEE-NEET परीक्षा के खिलाफ विपक्ष के मिले सुर मे सुर, अब ममता बनर्जी और ओवैसी ने परीक्षा को स्थगित करने की माँग की

नई दिल्ली: जेईई और नीट परीक्षा के आयोजन को लेकर विरोध बढ़ता ही जा रहा है. परीक्षा में अब एक महीने से भी कम समय बचा है और सुप्रीम कोर्ट ने भी जेईई मेन और नीट परीक्षा आयोजित कराने के लिए अनुमति दे दी है. लेकिन इन सबके बाद भी जेईई मेन और नीट परीक्षा के आयोजन को लेकर जमकर विरोध हो रहा है. छात्रों समेत कई राजनीतिक हस्तियां भी परीक्षा को स्थगित करने की मांग कर रही हैं.

ममता बनर्जी ने क्या कहा है?

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी भी अब उन राजनेताओं में शामिल हो गई हैं. ममता बनर्जी ने कोरोना वायरस के मौजूदा हालात के मद्देनजर केन्द्र सरकार से जेईई और नीट स्थगित करने की अपील की.

उन्होंने ट्वीट किया, ”आदरणीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ हुई हमारी पिछली वीडियो कांफ्रेंस में मैंने सितंबर के अंत तक विश्वविद्यालयों/कॉलेजों में अनिवार्य रूप से परीक्षाएं आयोजित कराने संबंधी यूजीसी के दिशा-निर्देशों पर खुलकर अपनी बात रखी थी. इन परीक्षाओं के चलते छात्रों की जान खतरे में पड़ने की बहुत अधिक संभावना है.”

असदुद्दीन ओवैसी ने क्या कहा है?

वहीं, ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी कोरोना महामारी के चलते परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाए जाने की गुजारिश की है. ओवैसी ने सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘देश के छात्र इससे भी भयानक दौर के लिए खुद को तैयार रखें, क्योंकि इस सरकार से निष्पक्षता की उम्मीद करना बेमानी होगी. इससे पहले संसद सदस्य चिराग पासवान ने भी सितंबर में जेईई मेन 2020 और नीट 2020 के संचालन से संबंधित स्वास्थ्य और सुरक्षा चिंताओं पर प्रकाश डालते हुए शिक्षा मंत्री को पत्र लिखा था.

तेजस्वी यादव ने क्या कहा था?

बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव भी जेईई मेन और नीट परीक्षा स्थगित करने की मांग कर चुके हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था कि कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच परीक्षा आयोजित करना महंगा साबित हो सकता है.

राहुल गांधी ने कसा था ‘मन की बात’ पर तंज

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी रविवार को पीएम मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम पर तंज कसते हुए कहा कि केंद्र सरकार से छात्रों की मन की बात सुनते हुए JEE और NEET की परीक्षाओं को रोकने की अपील की है. राहुल गांधी ने कहा, ‘आज हमारे लाखों छात्र सरकार से कुछ कह रहे हैं. NEET, JEE परीक्षा के बारे में उनकी बात सुनी जानी चाहिए और सरकार को एक सार्थक हल निकालना चाहिए.

वहीं, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी इंजीनियरिंग और मेडिकल में से जुड़ी इन प्रवेश परीक्षाओं को रद्द करने की मांग की है.

Related Articles

Back to top button