Select your Language: हिन्दी
महाराष्ट्र

उद्धव ठाकरे ने बिहार में मुफ्त वैक्सीन वाले बयान पर बीजेपी पर साधा निशाना, पूछा- बाकी राज्य क्या बांग्लादेश या पाकिस्तान में हैं?

मुंबई: देश के दूसरे राज्यों के सीएम को भी जीएसटी रद्द करने की मांग करनी चाहिए. अगर जीएसटी की प्रणाली में गलती हुई है तो पीएम नरेंद्र मोदी को गलती मानते हुए इसे रद्द करना चाहिए. ये मांग शिवसेना अध्यक्ष और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने शिवसेना की दशहरा रैली के मौक़े पर की है.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि देश संकट में है और बीजेपी राजनीति कर रही है. देश किसी के ‘बाप की जागीर’ नहीं है. जीएसटी को रद्द कर देना चाहिए. महाराष्ट्र का जीएसटी बकाया 38000 करोड़ है जो केंद्र ने अभी तक नहीं लौटाया है. महाराष्ट्र जैसे हालात दूसरे राज्यों के भी हैं. केंद्र सरकार को अपने शब्दों को का मान रखना चाहिए. जीएसटी की प्रणाली का सबसे पहले शिवसेना ने ही विरोध किया था.

शिवसेना को कोई हिंदुत्व का पाठ ना पढ़ाए

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी का नाम ना लिए बिना सीएम ठाकरे ने संघ प्रमुख मोहन भागवत के भाषण का ज़िक्र करते हुए हिंदुत्व पर सवाल उठाने वालों पर जमकर हमला बोला है. उद्धव ने कहा कि शिवसेना और बालासाहब का  हिंदुत्व ‘थाली बजाने वाला’ हिंदुत्व नहीं है.

आरएसएस प्रमुख के भाषण का ज़िक्र करते हुए उद्धव ने कहा कि सुबह संघ संचालक मोहन भागवत ने दशहरा रैली को संबोधित किया, जो लोग उनकी तरह काली टोपी पहनते हैं, जो उनको मानते हैं उन्हें सुनना चाहिए. मोहन भागवत ने कहा कि हिंदुत्व को पूजा से जोड़कर संकुचित किया गया है. मंदिर नहीं खोला तो सेक्युलर, यह बोलने वाले लोग जो काली टोपी पहनते हैं, उनकी टोपी के नीचे अगर दिमाग है तो उन्हें संघ संचालक का भाषण सुनना चाहिए. यह लोग हमारे हिंदुत्व पर सवाल उठा रहे हैं.

दरअसल महाराष्ट्र में कोविड के चलते मंदिर खोलने को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने अब तक इजाजद नहीं दी है. इसे लेकर पिछले दिनों राज्यपाल कोशियारी ने सीएम उद्धव को पत्र लिखकर उनके हिंदुत्व पर सवाल पूछा था.

संघ मुक्त करने की भाषा बोलने वाले नीतीश पसंद हम नहीं

उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम तो मोहन भागवत को राष्ट्रपति बनाने की मांग कर चुके हैं. तुम्हें यह शिवसेना नहीं पसंद है. पर संघ मुक्त भारत कहने वाले नीतीश कुमार तुम्हें पसंद हैं. 2014 तक नीतीश कुमार हमारे साथ थे पर 2014 में उन्होंने कहा कि उन्हें देश में सेक्युलर चेहरा चाहिए और उन्होंने गठबंधन तोड़ दिया. तो आखिर उसके बाद क्या हुआ? किसने किसे वैक्सीन दिया?

बिहार में मुफ़्त वैक्सीन देने के बीजेपी के वादे पर

बिहार चुनाव के मौक़े पर बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में सरकार बनने पर मुफ़्त में वैक्सीन देने का वादा किया है. इस पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी को शर्म आनी चाहिए. उद्धव ने कहा कि बीजेपी की केंद्र में सरकार की ज़िम्मेदारी है कि सभी का ध्यान रखे. ऐसे में सवाल ये है कि क्या देश के बाक़ी राज्य क्या बांग्लादेश में हैं या क्या पाकिस्तान में हैं?

सुशांत सिंह मामले में पर

सीएम उद्धव ठाकरे ने सुशांत मामले में पहली बार चुप्पी तोड़ी है. उद्धव ने कहा कि बिहार के बेटे को न्याय दिलाने के लिए हल्ला मचाने वाले महाराष्ट्र के बेटे के चरित्र हनन में लगे है.

बिहार की जनता सोच समझकर करे मतदान

उद्धव ठाकरे ने अपने भाषण के अंत में बिहार की जनता से चुनाव में मतदान सोच समझकर करने की अपील की है. लेकिन इशारों इशारों मे उद्धव ये बताना नहीं भूले कि बीजेपी की चाल क्या है? बीजेपी नेता कह रहे हैं कि बीजेपी की ज़्यादा सीटें आई तो भी नीतीश ही सीएम होंगे. बीजेपी ऐसी चाल चलती रहती है. लोगों को सावधान रहने की जरुरत है.

Related Articles

Back to top button