Select your Language: हिन्दी
Tech

गूगल पे पेमेंट एप्प में जल्द ही जुड़ेगा नया फीचर, ट्रांजैक्शन डेटा पर यूजर्स को मिलेगा और ज्यादा कंट्रोल

नई दिल्ली. डिजिटल पेमेंट ऐप गूगल पे जल्द नए अपडेट के साथ जारी किया जाएगा. इस अपडेट के आने से गूगल पे के ट्रांजैक्शन हिस्ट्री पर यूजर का पहले से ज्यादा कंट्रोल रहेगा. दिग्गज आईटी कंपनी गूगल ने गुरुवार को कहा कि वह गूगल पे के यूजर्स को उनके डेटा पर ज्यादा कंट्रोल प्रदान करेगी. कंपनी ने कहा कि इसके लिये वह प्राइवेसी के विस्तृत फीचर देने जा रही है, जिससे ट्रांजैक्शन के डेटा पर यूजर्स को ज्यादा कंट्रोल की सुविधा मिलेगी.

अगले सप्ताह जारी होगा नया अपडेट
कंपनी ने कहा कि इसके तहत गूगल पे ऐप का अगले सप्ताह से एक अपडेट जारी किया जाएगा. यूजर्स अब यह निर्धारित कर सकेंगे कि उनकी ट्रांजैक्शन एक्टिविटी पर उन्हें कितना नियंत्रण रखना है. गूगल पे ऐप का नया अपडेट करते ही सभी यूजर से पूछा जाएगा कि वे कंट्रोल को ऑन करना चाहते हैं या ऑफ.

यूजर्स को मिलेगा डेटा पर ज्यादा कंट्रोल

गूगल पे के वाइस प्रेसिडेंट (प्रोडक्ट) अंबरीश केंघे ने कहा, ”प्राइवेसी हमारे लिए पहले से ही एक प्रमुख प्राथमिकता है. यदि आप गूगल पे पर कुछ भी करते हैं तो वह गूगल पे पर ही रहता है. यह आज की स्थिति है. अब हम जो कह रहे हैं, वह है कि हम गूगल पे पर भी आपकी एक्टिविटी का प्रबंधन करने के लिए आपको नियंत्रण देने जा रहे हैं. अत: यदि आप गूगल पे पर कुछ कर रहे हैं तो आपसे पूछा जाएगा कि आपके हिसाब से ऐप की सेवाओं को पर्सनलाइज करने के लिए इन्हें रिकॉर्ड किया जाना चाहिए या नहीं.”

अंबरीश ने गगूल पे पर मोबाइल रिचार्ज करने का उदाहरण दिया. उन्होंने बताया कि अब यूजर यह तय कर सकते हैं कि उन्हें ऑफर व रिवार्ड देने के लिये इस डेटा का इस्तेमाल किया जा सकता है या नहीं. उन्होंने कहा कि यूजर अब अपने ट्रांजैक्शन एक्टिविटी को देखकर उन्हें हटा भी सकते हैं.

Related Articles

Back to top button