Select your Language: हिन्दी
World

पैंगोंग के बाद अब दूसरे इलाको में भी चाइना के साथ गतिरोध कम करने की तैयारी में भारत, जल्द होगी कमांडर स्तर की मीटिंग

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच कमांडर स्तर की वार्ता इस सप्ताह फिर होने की संभावना है। पैंगोंग झील इलाके में दोनों देश की सेना गतिरोध वाले प्वाइंट अपनी-अपनी सीमा में पीछा जा चुके हैं। महीनों चले गतिरोध के बाद हल ही में दोनों देशों के बीच इसको लेकर सहमति बनी थी।

आपको बता दें कि दोनों देश के बीच गोगरा हाइट्स और डेपसांग में विस्थापन पर चर्चा होनी है। इस मामले से परिचित लोगों ने इसी सप्ताह दोनों देशों के बीच बैठक होने की बात कही है।

पिछले सप्ताह हुई राजनयिक वार्ता के बाद दोनों पक्षों के बीच इस सप्ताह कोर कमांडर स्तर पर वार्ता होने की संभावना है। सरकारी सूत्रों ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि दोनों पक्षों ने चर्चा के दौरान डेमचोक के पास गोगरा हाइट्स, डेपसांग प्लेन्स और सीएनसी जंक्शन क्षेत्र से विस्थापन के मुद्दे पर चर्चा करने की उम्मीद है।

आपको बता दें कि दोनों देशों के बीच लगभग एक साल से सैन्य गतिरोध की स्थिति बनी हुई है। हालांकि हाल में रिश्तों पर जमी बर्फ की परतें पतली हुई है। विवादास्पद पैंगोंग झील इलाके से दोनों सेनाओं ने अपने-अपने जवानों को वापस बुला लिया है। सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने दोनों पक्षों को इसका श्रेय दिया। साथ ही इस संकट के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल द्वारा दिए गए इनपुट से देश को लाभान्वित होने की बात कही थी।

Related Articles

Back to top button