Select your Language: हिन्दी
West Bengal

हाई वोल्टेज सियासी ड्रामे के बीच ईवीएम मशीन में कैद हुई ममता और शुभेंदु की किस्मत

नंदीग्राम. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान में बंपर वोटिंग हुई . इस चरण में सभी का ध्यान नंदीग्राम पर था जहां से राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और TMC छोड़ भाजपा में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी चुनावी मैदान में हैं. नंदीग्राम में पूरे दिन हाईवोल्टेज ड्रामा, दावों, वार-पलटवार की स्थिति देखने को मिली. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जिनके भाग्य का फैसला मतदाताओं ने गुरुवार को तय कर दिया. वह काफी आक्रामक दिखीं. ममता ने दावा किया कि “मैंने कभी भी इतना बुरा चुनाव नहीं देखा.” उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा मतदाताओं को बोयल मोक्ताब प्राइमरी स्कूल बूथ पर मतदान नहीं करने दे रही है.

ममता पोलिंग बूथ पर करीब एक से डेढ़ घंटे तक रहीं. बनर्जी ने गृह मंत्री अमित शाह पर आरोप लगाते हुए कहा कि नंदीग्राम में तैनात केंद्रीय बल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश पर भाजपा की मदद कर रहे हैं. इतना ही नहीं, यहां तक कि उन्होंने राज्यपाल के पास फोनकर शिकायत तक दर्ज कराई. ममता ने कहा कि चुनाव आयोग उनके आरोपों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है और उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को लेकर अदालत में जाएगीं.

अधिकारी ने बताया राजनीतिक ड्रामा
ममता के बूथ से जाने के कुछ घंटों के बाद उनके प्रतिद्वंदी शुभेंदु अधिकारी अपने समर्थकों के साथ बूथ पर पहुंचे और कहा कि मुख्यमंत्री राजनीतिक नौटंकी कर रही हैं. अधिकारी ने आरोप लगाया कि ममता ने बोयल बूथ पर आराम से जारी मतदान प्रक्रिया में बाधा पहुंचाई है. इस संबंध में चुनाव आयोग ने बयान जारी कर सफाई दी कि मतदान केंद्र पर किसी भी तरह की रुकावट नहीं हुई.

जहां एक तरफ नंदीग्राम का ये सूरत-ए-हाल था तो वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ममता के आरोपों और शिकायतों को लेकर उनपर निशाना साधा.

पीएम मोदी के बयान का टीएमसी ने दिया जवाब
बंगाल के जयनगर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ममता के क्रियाकलापों से पता चलता है कि वह नंदीग्राम में हारने जा रही हैं. पीएम मोदी ने कहा कि- बंगाल के लोगों ने ये तय कर लिया है कि दीदी को जाना चाहिए. नंदीग्राम के लोगों का आज सपना पूरा हो गया. वह सिर्फ मतदान नहीं कर रहे हैं लेकिन वह बंगाल के बदलाव के रास्ते की ओर बढ़ रहे हैं.

पीएम मोदी ने ममता से पूछा कि क्या वह एक अन्य सीट से चुनाव लड़ने वाली हैं? इस पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से कहा गया कि ममता आराम से नंदीग्राम सीट जीतने वाली हैं और कहीं और से नॉमिनेशन फाइल करने का सवाल ही नहीं उठता है. वहीं टीएमसी प्रमुख ममता ने मतदान के दौरान प्रधानमंत्री की रैली पर सवाल उठाते हुए इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताया.

Related Articles

Back to top button