Select your Language: हिन्दी
Business

जुलाई से बदलने वाला है केंद्रीय कर्मचारियों का PF का ये नियम! जानिये क्या होगा इसका असर

नई दिल्ली: लाखों केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को अपने महंगाई भत्ते और महंगाई राहत का इंतजार है. उम्मीद की जा रही है कि ये कर्मचारियों की सैलरी में जून 2021 से जुड़ जाएगा. ये केंद्रीय कर्मचारियों के 7वें वेतन आयोग के तहत होगा जो कि जनवरी 2021 से बकाया है, अब संभावना है कि ये जून तक ही होगा. मीडिया रिपोर्ट में आई खबरों के मुताबिक सरकार DA का ऐलान करना समय पर जारी रखेगी, लेकिन ये केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में इस साल जून से पहले नहीं आएगा.

कैसे बदल जाएगा PF का योगदान?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों का DA जून 2021 तक फ्रीज कर दिया है. हालांकि मोदी सरकार ने अब साफ कर दिया है कि महंगाई भत्ते की बहाली 1 जुलाई से कर दी जाएगी. DA की तीनों रुकी हुई किस्तें- जनवरी 2020 से लेकर जून 2020, जुलाई 2020 से लेकर दिसंबर 2020 और जनवरी 2021 से लेकर जून 2021 केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में जोड़ दी जाएंगी. अब चूंकि प्रॉविडेंट फंड (PF) योगदान केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी और DA मिलाकर कैलकुलेट होता है. ऐसे में अगर DA बढ़ता है तो PF योगदान भी अपने आप बढ़ जाएगा. जिसका फायदा कर्मचारियों को लंबी अवधि में दिखेगा. अभी कर्मचारियों को 17 परसेंट की दर से DA, DR मिलता है, वो बढ़कर 28 परसेंट हो सकता है.

DA में बढ़ोतरी का भी मिलेगा फायदा
आपको बता दें कि पिछले महीने ही वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने राज्य सभा में एक लिखित जवाब में बताया था कि 1 जुलाई से केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को डीए का पूरा फायदा मिलेगा. उन्हें जनवरी से जून 2021 तक के लिए फ्रीज किए गए DA के साथ इसमें हुई बढ़ोतरी का भी लाभ मिलेगा.

28 परसेंट DA होने का गणित

1 जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी और पेंशनर्स की पेंशन में जबरदस्त उछाल देखने को मिलेगा. मीडिया रिपोर्ट्स में छपी खबर के मुताबिक AICPI (ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स) के ताजा आंकड़ों में बताया गया है कि जनवरी से जून 2021 की अवधि के लिए कम से कम 4 परसेंट DA बढ़ोतरी का अनुमान है. ऐसी उम्मीद की जा सकती है कि जनवरी से जून 2020 के लिए 3 परसेंट DA और जुलाई से दिसंबर 2020 के लिए घोषित 4 परसेंट DA को भी केंद्रीय कर्मचारियों के मौजूदा DA में जोड़ दिया जाए, जो कि अभी 17 परसेंट हैं. यानी कुल (17+4+3+4) 28 परसेंट DA हो जाएगा.

फैमिली पेंशन में हुई बढ़ोतरी
केंद्र सरकार ने कुछ दिनों पहले सरकारी पेंशनधारकों के लिए फैमिली पेंशन की अधिकतम सीमा को बढ़ाने की घोषणा की थी. केंद्र सरकार ने फैमिली पेंशन की अधिकतम सीमा में लगभग ढाई गुना तक की बढ़ोत्तरी की है. अभी तक फैमिली पेंशन की अधिकतम सीमा 45,000 रुपये प्रति माह थी. अब इसे बढ़ाकर अब 1.25 लाख रुपये प्रतिमाह कर दिया गया है.

Related Articles

Back to top button