Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

देशभर में एक महीने का लगा लॉकडाउन तो जीडीपी हो जाएगी धडाम

मुंबई: अमेरिका की ब्रोकरेज कंपनी बोफा सिक्योरिटीज ने सोमवार को आगाह किया कि भारत में अगर राष्ट्रीय स्तर पर 1 महीने का लॉकडाउन लगाया जाता है तो जीडीपी में 2 प्रतिशत तक की गिरावट आ सकती है.

पिछले 1 महीने में 7 गुना तक बढ़े कोरोना के मामले
ब्रोकरेज कंपनी बोफा सिक्योरिटीज ने उम्मीद जताई है कि कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए स्थानीय स्तर पर ही लॉकडाउन लगाया जाएगा. बोफा सिक्योरिटीज के एनालिस्ट्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि एक महीने पहले कोरोना के 35,000 मामले थे जो अब सात गुना बढ़कर 2.61 लाख से ज्यादा हो गए हैं.

लॉकडाउन से जीडीपी को नुकसान

रिपोर्ट के अनुसार, ‘यह देखने की बात है कि क्या कोरोना की दूसरी लहर राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन के बिना खत्म होगी. अगर एक महीने के लिए भी राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन लगाया जाता है तो जीडीपी को 1 से 2 प्रतिशत तक का नुकसान हो सकता है.’

कोरोना की रोकथाम के लिए लॉकडाउन जरूरी?
इसमें कहा गया है कि हाई इकोनॉमिक कॉस्ट को देखते हुए अनुमान है कि केंद्र और राज्य सरकारें कोविड-19 की रोकथाम से जुड़े नियमों जैसे- मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आदि को कड़ाई से लागू करके, नाइट कर्फ्यू और स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन के जरिए इस पर अंकुश लगाने की कोशिश करेंगी.

Related Articles

Back to top button