Select your Language: हिन्दी
राष्ट्रीय

कोरोना टीकाकरण: 18 से 44 साल तक के लोगों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा अनिवार्य, पढ़े पूरी खबर

नई दिल्ली. देश में एक मई से 18 साल की उम्र से ज्यादा लोगों के लिए टीकाकरण की शुरूआत होने जा रही है. केंद्र सरकार ने कहा है कि अगर 18 से 44 साल के लोगों को वैक्सीन लगवानी है तो उन्हें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा. सरकार ने साफ किया है कि इन लोगों को वॉक-इन यानी सीधा टीका केंद्रों पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराने की सुविधा नहीं मिलेगी.

18 से 44 साल तक की उम्र के लोग 28 अप्रैल से कोविन पोर्टल पर पंजीकरण करा सकेंगे. इस आयु वर्ग के लोग अगर निजी टीकाकरण केंद्रों पर टीका लगवाना चाहेंगे तो उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी. 45 साल से कम उम्र के लोग राज्यों या केंद्रशासित प्रदेशों के सरकारी टीकाकरण केंद्रों में टीका लगवाने के लिए भी पात्र होंगे.

टीकों का दाम जानिए

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ‘कोविशील्ड’ राज्यों को 400 रुपए प्रति खुराक और निजी अस्पतालों को 600 रुपए प्रति खुराक उपलब्ध होगा, जबकि भारत बायोटेक का ‘कोवैक्सीन’ राज्यों को 600 रुपए प्रति खुराक और निजी अस्पतालों को 1200 प्रति खुराक मिलेगा.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखे पत्र में कहा कि प्रत्येक निजी टीकाकरण केंद्र को एक मई से आरंभ हो रहे टीकाकरण अभियान के मद्देनजर कोविन पोर्टल पर टीकों के प्रकार, उनकी कीमतें और उपलब्ध टीकों की संख्या के बारे में जानकारी सार्वजनिक करनी होगी. इसे ध्यान में रखते हुए कोविन पोर्टल पर बदलाव किए जा रहे हैं.

कोविन पोर्टल पर उपलब्ध होगी टीकों की पूरी जानकारी

स्वास्थ्य सचिव ने कहा, ‘‘टीकों के प्रकार और उनके मूल्य कोविन पोर्टल पर उपलब्ध रहेंगे ताकि नागरिक पंजीकरण के समय अपनी सुविधानुसार चयन कर सकें.’’ पत्र में उन्होंने बताया कि निजी केंद्रों पर टीकाकरण के लिए पंजीकरण सिर्फ ऑनलाइन माध्यम से कोविन पोर्टल या आरोग्य सेतु ऐप के जरिए होगा.

उल्लेखनीय है कि विश्व में सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत भारत में कोरोना वायरस टीके की दी जा चुकी खुराक की कुल संख्या रविवार को 14 करोड़ से ज्यादा हो गई है.

Related Articles

Back to top button