Select your Language: हिन्दी
Tech

व्हाट्सएप ने प्राइवेसी पालिसी को लेकर अपनाया अड़ियल रवैया, कहा- नहीं की स्वीकार तो डिलीट कर दिया जाएगा अकाउंट

नई दिल्‍ली. सोशल नेटवर्किंग साइट व्‍हाट्सऐप अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी की डेडलाइन को लेकर अड़ गया है. व्‍हाट्सऐप ने साफ शब्‍दों में कहा है कि उसने इसकी डेडलाइन में कोई बदलाव नहीं किया है. कंपनी ने कहा है कि यूजर्स को हम 15 मई 2021 से आगे का समय नहीं दे रहे हैं. इसलिए जिस यूजर ने प्राइवेसी पॉलिसी को स्‍वीकार नहीं किया है, अब उनके अकाउंट डिलीट होने शुरू हो जाएंगे. दिल्‍ली हाईकोर्ट में कंपनी की पैरवी कर रहे वकील कपिल सिब्‍बलका कहना है कि जो यूजर इस पॉलिसी को स्‍वीकार नहीं करेगा, उसका अकाउंट डिलीट कर दिया जाएगा.

व्‍हाट्सऐप जनवरी 2021 से भेज रही है नोटिफिकेशन

सिब्‍बल ने बताया कि हमने यूजर्स से पॉलिसी को लेकर सहमत होने का आग्रह किया है. अगर वे सहमत नहीं होंगे तो हम उनके अकाउंट डिलीट कर देंगे. इस पॉलिसी को स्‍थगित करने का कोई प्रस्‍ताव नहीं है. कंपनी की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. सिब्‍बल का कहना है कि कंपनी ने पॉलिसी को स्‍थगित नहीं किया है. बता दें कि व्‍हाट्सऐप की तरफ से प्राइवेसी पॉलिसी का नोटिफिकेशन जारी किया जा रहा था. इसमें पॉलिसी को स्‍वीकार करने के लिए 15 मई 2021 तक की डेडलाइन दी गई थी. इस पॉलिसी को सबसे पहले जनवरी 2021 में जारी किया गया था, जिसकी डेडलाइन फरवरी तक बढ़ाई गई थी. इसके बाद फिर मई 2021 तक के लिए इसे स्‍थगित कर दिया गया था.

यूजर्स का डाटा फेसबुक से साझा करेगी व्‍हाट्सऐप

व्‍हाट्सऐप की नई पॉलिसी के मुताबिक, कंपनी को यह अधिकार होगा कि वह यूजर्स के इंटरेक्‍शन से जुड़ा कुछ डाटा पैरेंट कंपनी फेसबुक से साझा कर सके. इसी को लेकर यूजर्स को कंपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी स्‍वीकार करने का नोटिफिकेशन भेज रही है. इसे स्‍वीकार करने पर ही यूजर्स का व्‍हाट्सऐप अकाउंट आगे जारी रहेगा. इस मामले पर दिल्‍ली हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है. इसे फिलहाल 3 जून 2021 तक के लिए टाल दिया गया है. एडिशनल सॉलिसिटर जनरल चेतन शर्मा और याचिकाकर्ताओं की ओर से यथास्थिति की मांग की गई थी. इसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई टालने का फैसला लिया. हालांकि, कंपनी ने सुनवाई के दौरान इस पॉलिसी पर स्‍टे का विरोध किया.

Related Articles

Back to top button