Select your Language: हिन्दी
World

तालीबान ने दिखाया अपना असली रंग,भारत पर 17 बार आक्रमण करने वाले मुहम्मद गजनवी का किया गुणगान

भारत पर जिस मुहम्मद गजनवी ने 17 बार आक्रमण किया हो और सोमनाथ मंदिर पर हमला कर उसे लुटा हो तालिबान अब उस आक्रान्ता मुहम्मद गजनवी का गुनगान करने में लगा है। तालीबान को काबुल पर कब्जा किए हुए अभी दो महीने भी नहीं हुए हैं कि तालिबान ने अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है। मंगलवार को तालिबानी नेता अनस हक्कानी ने महमूद गजनवी की कब्र का दौरा किया और उस दौरे में उनसे उसकी प्रशंसा भी की, जिसने 17 वीं शताब्दी में गुजरात के सोमनाथ मंदिर पर कई बार हमला किया था। कुख्यात ‘हक्कानी नेटवर्क’ के तालिबान सरकार के नए आंतरिक मंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी के छोटे भाई अनस हक्कानी ने गजनवी को “एक प्रसिद्ध मुस्लिम योद्धा” कहकर महिमामंडित करने का काम किया है।

इसके लिए अनस हक्कानी बाकायदा से सोशल मीडिया का सहारा भी लिया है. अनस हक्कानी ने ट्वीट में लिखा, ‘आज, हमने 10वीं शताब्दी के एक प्रसिद्ध मुस्लिम योद्धा और मुजाहिद सुल्तान महमूद गजनवी की दरगाह का दौरा किया। गजनवी (अल्लाह की रहमत उस पर हो) ने गजनी से क्षेत्र में एक मजबूत मुस्लिम शासन स्थापित किया और सोमनाथ की मूर्ति को तोड़ दिया। इसके अलावा हक्कानी ने ट्विटर पर कब्र की तस्वीरें भी पोस्ट कीं है।

यहाँ आपको जान लेना चाहिए कि महमूद गजनवी गजनवी के तुर्क वंश का पहला स्वतंत्र शासक था, उसने 998 से 1030 ईस्वी तक शासन किया था। उसने ही भारत पर 17 बार आक्रमण किया और 1024 ईस्वी में सोमनाथ मंदिर को तोड़ा था

Related Articles

Back to top button