Select your Language: हिन्दी
Uttar Pradesh

बिजली बिल पर योगी सरकार का बड़ा दांव, लागू होगा ओटीएस स्कीम

आनेवाले कुछ ही महीनों में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसके लिए सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। जिसमे बिजली का बिल एक सबसे बड़ा मुद्दा है। इसी को ध्यान में रखते हुवे राज्य सरकार ने यूपी में विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले, बड़ा दांव खेला है। बिजली बकाएदारों के लिए बुधवार को एकमुश्त समाधान योजना (ओटीएस) का ऐलान किया गया है। इस एकमुश्त समाधान योजना के तहत सरचार्ज पर 100 पर्सेंट छूट दी जाएगी। इसके अलावा आसान किश्तों में बकाया भुगतान करने के लिए एकल विंडो सिस्टम भी होगा। साथ ही साथ 2 किलोवॉट से 5 किलोवॉट के बीच मीटर वालों को सरचार्ज पर 50 फीसदी छूट मिलेगी। यह योजना उन उपभोक्ताओं पर भी लागू होगी जिनकी बिजली आपूर्ति स्थायी रूप से काट दी गई है या जो कानूनी विवादों में फंस गए हैं। बकायदारों को छह किश्तों में बिल चुकाने की छूट दी जा एगी। यह योजना 21 अक्टूबर (गुरुवार) से 30 नवंबर के बीच लागू होगी।

राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा का कहना है कि यह ओटीएस स्कीम किसानों और 2 किलोवॉट वाले उपभोक्ताओं के लिए बहुत फायदेमंद होगी। इस योजना के तहत कृषि रूप से समृद्ध और राजनीतिक रूप से अशांत पश्चिम यूपी में बीजेपी विरोधी लहर को अपने पक्ष में करने का यह दांव माना जा रहा है। वेस्टर्न यूपी में नए कृषि कानूनों को लेकर किसान आंदोलन कर रहे हैं।

गौरतलब हो कि अभी हाल ही में आम आदमी पार्टी ने भी अपनी सरकार बनाने पर में मुफ्त बिजली देने का वादा किया है। चुनावी विशेषज्ञों के अनुसार यह ओटीएस स्कीम बीजेपी सरकार की समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के ऐलान का काउंटर हो सकती है ।

Related Articles

Back to top button