Select your Language: हिन्दी
Delhi

क्रिप्टो करंसी पर आने वाला है बिल, निवेशकों में मचा हड़कंप

केंद्र सरकार ने देश में क्रिप्टो करेंसी को प्रतिबंधित करने का कानून लाने का मन बना लिया है। यह खबर आते ही निवेशकों में भगदड़ मच गई। आने वाले 29 नवंबर से संसद के आगामी सत्र में क्रिप्टो या डिजिटल करेंसी पर आने वाले बिल ने निवेशकों की नींद पुरी से उड़ा दी है. इसकी आहट बीती रात जारी लोकसभा बुलेटिन में मिली जिसमे उन 26 नए विधेयकों की लिस्ट प्रकाशित की गयी है. इस लिस्ट में 10वें नंबर पर ‘द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021’ भी शामिल है। इस बिल में देश में सभी प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव किया गया है। विधेयक के नाम के आगे दी गई संक्षिप्त जानकारी में इस विधेयक लाने का मकसद बाया गया है। इसमें कहा गया है, ‘रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा जारी आधिकारिक डिजिटल करेंसी बनाने के लिए मददगार ढांचा तैयार करना।’

यह खबर सामने आते ही देखते ही देखते इन करंसी की कीमतें 30% प्रतिशत तक टूट गईं। सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो बिटकॉइन 26% तक टूट गया है जो आगे भी जारी रह सकती है। दरअसल, बाजार में बिकवाली की होड़ लग गई है क्योंकि निवेशकों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है कि कहीं उनका पैसा फंस नहीं जाए। हालांकि, सरकार ने सरकारी डिजिटल करेंसी का विकल्प लाने का आश्वासन दिया गया है। आरबीआई की डिजिटल करेंसी का रास्ता तैयार करने के लिए विधेयक में ‘डिजिटल करेंसी की अंतर्निहित तकनीक और इसके उपयोगों को बढ़ावा देने के लिए कुछ अपवादों को अनुमति दिए जाने’ का भी प्रस्ताव किया गया है। यानी, अगर किसी को डिजिटल करेंसी में बेहतर भविष्य दिख रहा है तो वो बिटकॉइन, इथेरियम जैसी प्राइवेट क्रिप्टो में निवेश भले ही नहीं कर पाएगा, लेकिन सरकारी करेंसी का विकल्प खुला रहेगा।

Related Articles

Back to top button