Entertainment

कुंग फू मास्टर कॉस्मो ज़िमिक 8 अगस्त को अमेरिका से भारत पहुंचेंगे और मुंबई में एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म रिलीज करेंगे

मुंबई (भारत): कुंग फू मास्टर कॉस्मो ज़िमिक 8 अगस्त, 2022 को यूएसए से भारत पहुंचेेंगे और मुंबई में चीता यजनेश शेट्टी के साथ डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘लाइफ ऑफ ए डोजो मास्टर’ को रिलीज करेगें,जिसे बाद में फिल्म फेस्टिवल में भेजा जाएगा और सभी डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ किया जाएगा। यह फ़िल्म मास्टर कॉस्मो ज़िमिक के जीवन पर आधारित है, जो उत्तर पश्चिमी भारत के मणिपुर क्षेत्र में पैदा हुए और बीस साल पहले यूएसए में जाकर बस गए। मास्टर कॉस्मो ज़िमिक ने मणिपुर,पूर्वोत्तर भारत में अपने मार्शल आर्ट करियर की शुरुआत की और दुनिया भर में दूसरों को पढ़ाने और प्रशिक्षण देने की यात्रा की है। वह वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिका के इडाहो में रहते है। जहां डोजो, एम्प्टी हैंड कॉम्बैट,बर्मीज़ थींग बंदो को जोखिम वाले युवाओं, युवाओं और युवा वयस्कों को मार्शल आर्टिस्ट बनना सिखाते है। वह उन्हें योद्धा बनने के लिए प्रशिक्षित करते है और समुदाय की मदद करते है। चीता जीत कुन डू ग्लोबल स्पोर्ट्स फेडरेशन के संस्थापक चीता यजनेश शेट्टी ने मास्टर कॉस्मो ज़िमिक को 8वीं डिग्री ब्लैक बेल्ट प्रदान किया।

मास्टर कॉस्मो ज़िमिक ने 5000 से अधिक बच्चों को प्रशिक्षित किया है और 2000 से अधिक विशेषाधिकार प्राप्त बच्चों और ‘एट रिस्क यूथ’ के तहत नम्पा, इडाहो यूएसए में शिक्षा दिया हैं। युवा विभिन्न पृष्ठभूमि से आते हैं और इनमें से कुछ बच्चे बेघर हैं,अपनी माताओं के साथ बेघर आश्रय में रह रहे हैं व उनके पिता उनके जीवन से चले गए हैं। कुछ बच्चों के माता-पिता ड्रग एडिक्ट होते हैं और उन्हें दादा-दादी द्वारा पालने के लिए छोड़ दिया जाता है, कुछ अनाथ हैं जो जीवन में आशा की तलाश में हैं। वह उन्हें मार्शल आर्ट में प्रशिक्षित करते है और उन्हें मुफ्त यूनिफॉर्म, मुक्केबाजी के दस्ताने और जूते और कपड़ों सहित बुनियादी सुविधायें उपलब्ध करवाते हैं और उन्हें मार्शल आर्ट्स के माध्यम से परामर्श और सही दिशा में प्रेरित करके जीवन की कठिनाइयों और उनके वास्तविक जीवन के संघर्षों (चिंता और अवसाद सहित) को दूर करने में भी मदद करते है।

मास्टर कॉस्मो ज़िमिक को नम्पा सिटी के मेयर से ‘मेकिंग ए डिफरेंस’ के लिए, एल्क लॉज से ‘सिटीजन ऑफ द ईयर 2022’ यूएसए और इडाहो चैनल 7 (एनबीसी) हीरोज से समुदाय में उत्कृष्ट कार्य के लिए पुरस्कार मिला है। वह  1995 में मार्शल आर्ट्स स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री,ऐथलीट्स इन एक्शन (इंडिया) के संस्थापक थे, चीफ इंस्ट्रक्टर और एम्प्टी हैंड कॉम्बैट इंटरनेशनल एलएलसी के मालिक है, हांगकांग गॉस्पेल मार्शल आर्ट्स 1999 के सह-संस्थापक, 2003 की एलए (नेशनल मार्शल आर्ट चैंपियनशिप) के पावर ब्रेकिंग में प्रथम स्थान ,ख्रु (प्रशिक्षक) मॉइ थाई – 2009 से मॉइ थाई मिशन, बर्मीज़ थींग बंदो मार्शल आर्ट्स में 6 वीं डिग्री ब्लैक बेल्ट, ताइक्वांडो में 7 वीं डिग्री ब्लैक बेल्ट, अंतर्राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार – चीता जीत कुन डू , अंतर्राष्ट्रीय वर्ल्ड मार्शल आर्ट्स स्कूल फेडरेशन के बोर्ड के सलाहकार सदस्य भी हैं।

Related Articles

Back to top button